नवजात शिशु को सर्दी से कैसे बचें

Beat     Share 693 beats 3749 views

सर्दियां शुरू हो चुकी है, ऐसे मौसम में छोटे बच्चों और नवजात शिशुओं को अधिक देखभाल की जरूरत होती है। आमतौर पर सर्दिओं में बच्चों को गर्म रखने के लिए उन्हें कपड़े में अच्छी तरह लपेटा जाता है, या गर्म ऊनी कपड़े पहनाएं जाते है। माँ भी सर्दी से बचाने के लिए उन्हें ढेर सारे कपड़े पहनाती हैं ताकि ठण्ड से उन्हें बचा सके। सर्दियों के मौसम में मनुष्य के शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कमजोर पड़ जाती है। और बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता, तो पूरी तरह से विकसित भी नहीं हुई होती है। ऐसे में, बच्चों को बीमारियाँ होने का खतरा बना रहता है।

आइए आपको बताते हैं सर्दियों में बच्चों का ख्याल कैसे रखें और कौन- कौन सी सावधानियां बरतनी चाहिए।

मां का दूध दें बच्चे को बीमारी से लड़ने की ताकत –बच्चों को मां का दूध ही पिलायें। इससे बच्चे को बीमारी से लड़ने की शक्ति मिलती है। सर्दियों में बच्चे की सांस तेज हो रही हो, तो माँ का दूध पिलाना जरूरी है इसे आराम मिलेगा।

शिशु को धूप दिखाएँ-  सर्दियों में धूप हर किसी को अच्छी लगती है। साथ ही धुप में विटामिन D भी भरपूर मात्रा में होता है। जन्म के पश्चात नवजात शिशु को पीलिया रोग  होने की संभावना अधिक रहती है। बच्‍चे को रोज 15 से 20 मिनट तक सुबह की धूप में रहें। ऐसे में धुप उनके लिए सुरक्षा कवच का काम करती है और पीलिया जैसे घातक रोगों से उनकी रक्षा करती है। साथ ही धुप शरीर को गर्मी भी प्रदान करती है।

शिशु को कपडें में लपेटें- शिशु के शरीर के अंग बहुत नाजुक होते हैं इसलिए उन्हें किसी भी कपड़े में लपेटना ठीक नहीं है। इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि शिशु को जिस कपड़े में लपेट रहे हैं वो अच्छी तरह साफ हो और नर्म हो। इसके लिए सॉफ्ट टॉवेल और सूती कपड़ा सही रहता है। और बच्चे को डायपर पहनाएं। बच्चे ने यदि बिस्तर गिला किया हो तो तुरंत साफ करें उसे गिले में न रहने दें। इसे उसे ठण्ड लग सकती है। साथ ही अन्य कई प्रकार के संक्रमण हो सकते हैं।

ठण्ड के मौसम में बच्चे को रोज न नहलाये - ठंड में बच्चे को नहलाना ज़रूरी नहीं है, उसकी साफ-सफाई के लिए किसी साफ कपड़े को गर्म पानी में भिगो कर उसे पोछ दें। और हाँ बच्चे को नहलाने से पहले उसकी मालिश भी जरूर करें।

स्वच्छता का ध्यान का रखें - ठंड से नवजात को ठंड से बचाने के लिए सावधानियां बरतने की जरूरत है। घर में यदि कोई बीमार है तो उसे बच्चे से दूर रहें,  इसे को इन्फेक्शन हो सकता है।  स्वच्छता का ध्यान रखना जरूरी है। इससे नवजात को ठंड में होने वाली बीमारियों की संभावना कम रहती है। 

 

Written By

usha Singh