गले लगने के भी है, ढेरों फायदे।

Beat     Share 721 beats 198193 views

 

दुनिया भर में हग डे मनाया जा रहा है। इस दिन युवा पीडी अपने दोस्तों और करीबियों को गले लगाते है। कुछ लोग इसे ‘जादू की झप्पी’ भी कहते है। जी हां ‘जादू की झप्पी’ जो मुन्ना भाई MBBS फिल्म में मुन्ना भाई देते थे, सब की तकलीफे दूर कर देते थे।  परदे पर इस जादू की झप्पी ने अपना जादू खूब चलाया। पर क्या आप जानते है, कि गले लगने या हग करने के कई फायदे है।

आपको शायद ये पढ़ कर हंसी आ रही होगी। पर यह सच है, चलिए हम आपको गले लगने के फायदे बताते है।

मूड ठीक करें -

गले लगना या हग करना अपने आप में एक थेरेपी है। जब हम किसी को गले लगते है तो हमारे मन में कई सारे सकारात्मक और सुन्दर भाव जागते है। गले लगने से बॉडी में सेरोटोनिन हार्मोन भी तेजी से बनने लगते है। सेरोटोनिन एक ऐसा द्रव्य है जो हमारे मूड को बेहतर बनाता है। डिप्रेशन वाले लोगों में सेरोटोनिन कम पाया जाता है।

डर से छुटकारा दिलाता हैं-

Cool drink के विज्ञापन में आपने ये लाइन तो सुनी ही होगी कि ‘ डर सबको लगता हैं’। हर कोई किसी न किसी चीज से जरुर डरता हैं। आपने शायद देखा होगा कि जब किसी को डर लगता है तो वह अपने करीबी के गले लग जाता है। इससे वह बेहतर महसूस करता है। और डर गायब हो जाता हैं।

नर्वस सिस्टम को ठीक करें-

दो लोग जब एक दुसरे को गले लगाते है तो वे अपने नर्वस सिस्टम को बैलेंस करते है। यह नर्वस सिस्टम को बैलेंस करने का एक अच्छा तरीका है। स्किन के अन्दर छोटे-छोटे अण्डों के आकर के प्रेशर सेंसर होते है जो वेगस नर्व को हमारे मस्तिष्क से जोड़ते है। गले लगने से प्रेशर सेंसर पर दबाव पड़ता है इसे नर्वस सिस्टम बैलेंस राजता है

दिल के लिए अच्छा हैं

सर्दी के मौसम में हमारा शरीर गर्म रहता हैं ऐसे में हम किसी को गले लगा लेते हो तो एकाद पल के लिए हमारे  ह्रदय की धड़कना बंद करता हैं। ऐसे में धड़कन का बंद होना फायदेमंद हैं क्योंकि इससे आपके दिल की मांसपेशिया मजबूत होती हैं।

थकान कम करें

जब हम किसी को गले लगाते है तो हमारे शरीर की मांसपेशिया पूरी तरह से तन जाती है। जिसे शरीर को आराम मिलता है और थकान दूर होती है। गले लगाने से दिमाग को शांति मिलती हैं और जिस चीज़ से आप परेशान होते है उससे ध्यान हट जाता हैं, इसलिए गले लगाना जरुरी हैं।

Written By

Usha Singh